PM Kisan : करोड़ों किसानों के लिए बड़ा अपडेट, ई-केवाईसी की तारीख फिर बढ़ी, खाते में जल्द आएगी 12वीं किस्त के 2000 रुपया

नई दिल्ली, डेस्क रिपोर्ट। पीएम किसान योजना (पीएम किसान सम्मान निधि योजना) के 12.50 करोड़ लाभार्थी किसानों के लिए एक और बड़ा अवसर है। केंद्र सरकार ने 12वीं किस्त से पहले एक बार फिर ई-केवाईसी की तारीख बढ़ा दी है। अब किसान 31 अगस्त 2022 तक ई-केवाईसी करवा सकते हैं। पहले यह तारीख 31 जुलाई 2022 रखी गई थी, जिसमें कई किसान छूट गए थे।

दरअसल, पीएम किसान योजना से जुड़े लाभार्थियों के लिए ई-केवाईसी करवाना जरूरी है। सरकार ने इसे अनिवार्य कर दिया है, ऐसे में अगर आप ई-केवाईसी नहीं कराते हैं तो 12वीं किस्त का 2000-2000 अटक सकता है, इसलिए किसान 15 दिन के अंदर ई-केवाईसी का काम पूरा करें. कि 2000-2000 की राशि 15 सितंबर से पहले खातों में भेजी जा सकती है, इस संबंध में अगस्त के अंत तक किसानों को संदेश के माध्यम से जानकारी जारी की जा सकती है। अगली किस्त के लिए पीएम किसान पोर्टल की आधिकारिक वेबसाइट https://pmkisan.gov.in/ पर भी अपडेट चेक करते रहें।

बता दें कि कृषि और किसान कल्याण मंत्रालय द्वारा 1 दिसंबर 2018 से पीएम किसान सम्मान निधि योजना लागू की गई थी। इसके तहत हर साल 12.50 करोड़ किसानों को 6000 रुपये दिए जाते हैं। नियमानुसार हर साल योजना की पहली किश्त 1 अप्रैल से 31 जुलाई तक, दूसरी किस्त 1 अगस्त से 30 नवंबर तक और तीसरी किस्त 1 दिसंबर से 31 मार्च तक भेजी जाती है. अब 12वीं किस्त 1 अगस्त से 30 नवंबर के बीच भेजी जानी है. यह राशि हर 4 महीने में 2000-2000 रुपये के रूप में किसानों के खाते में ट्रांसफर की जाती है. यह पैसा सीधे किसानों के खातों में डीबीटी यानी डायरेक्ट बेनिफिट ट्रांसफर के जरिए भेजा जाता है।

अब तक हुए 9 बदलाव

पीएम किसान सम्मान निधि योजना में अब तक 9 बदलाव हो चुके हैं। इसमें आधार संख्या, बैंक खाता लिंक, ई-केवाईसी और राशन कार्ड की अनिवार्य आवश्यकता भी शामिल है। अब रजिस्ट्रेशन के बाद आप खुद ही अपना स्टेटस चेक कर सकते हैं कि आपके खाते में कितनी किस्त आ गई है, किस खाते में पैसा आया है आदि। इससे पहले पीएम पर आधार नंबर, मोबाइल नंबर या अकाउंट नंबर डालकर स्टेटस चेक किया जा सकता था। किसान पोर्टल, लेकिन बाद में मोबाइल नंबर से स्टेटस चेक करना बंद कर दिया। इससे पहले, आधार या बैंक खाता संख्या द्वारा स्थिति की जांच की जा सकती थी। अब अकाउंट नंबर की जगह मोबाइल नंबर और रजिस्ट्रेशन नंबर को अनिवार्य कर दिया गया है।

PMKSN Update 2022: 12वीं किस्त से पहले अपडेट करें ये डिटेल्स, देखें नई बेनिफिशियरी लिस्ट

पीएम किसान: घर बैठे करें ई-केवाईसी

  • सबसे पहले पीएम किसान की आधिकारिक वेबसाइट https://pmkisan.gov.in/ पर जाएं।
  • यहां आपको ई-केवाईसी के विकल्प पर क्लिक करना होगा।
  • अपना आधार नंबर और कैप्चा कोड दर्ज करें।
  • अब सर्च ऑप्शन पर क्लिक करें और यहां अपना मोबाइल नंबर डालें।
  • यहां मोबाइल नंबर पर आए ओटीपी को भरना होगा। ऐसा करने से आपका ई-केवाईसी पूरा हो जाएगा।
  • इसके अलावा अगर आप मोबाइल या कंप्यूटर नहीं चलाते हैं और ऑनलाइन ई-केवाईसी में दिक्कत आ रही है तो आप नजदीकी
  • कॉमन सर्विस सेंटर की सेवा ले सकते हैं, जिसे हिंदी में प्रज्ञा केंद्र कहते हैं। यहां बायोमेट्रिक केवाईसी किया जाएगा।

पीएम किसान: ई-केवाईसी के लिए जरूरी दस्तावेज

  • किसान का आधार कार्ड
  • किसान मतदाता पहचान पत्र
  • किसान का पैन कार्ड नंबर
  • किसान का ड्राइविंग लाइसेंस
  • परिवार राशन कार्ड
  • खेत या घर का बिजली बिल
  • किसान का वर्तमान पासपोर्ट साइज फोटो

पीएम किसान: लिस्ट में देखें अपना नाम

  • सबसे पहले प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना की आधिकारिक वेबसाइट https://pmkisan.gov.in/ पर जाएं।
  • यहां किसान कॉर्नर पर क्लिक करें और ऐसा करने पर एक नया पेज खुलेगा।
  • यहां लाभार्थी सूची विकल्प चुनें और अब फॉर्म खुल जाएगा। इसमें सबसे पहले राज्य का नाम, फिर जिला, ब्लॉक और गांव का चयन करें।
  • मांगी गई सभी जानकारियां भरने के बाद गेट रिपोर्ट पर क्लिक करें और ऐसा करते ही आपके सामने आपके गांव की पीएम किसान योजना के लाभार्थियों की सूची खुल जाएगी।
  • इस लिस्ट को देखकर आप पता लगा सकते हैं कि आपका नाम लाभार्थी किसानों में है या नहीं।

आवेदन में सही त्रुटियां

  • फॉर्म भरते समय अपना नाम अंग्रेजी में लिखें।
  • जिन किसानों का नाम आवेदन में हिंदी में लिखा है, वे इसे अंग्रेजी में करें।
  • अगर आवेदन में नाम और बैंक खाते में आवेदक का नाम अलग-अलग है तो आपका पैसा फंस सकता है।
  • बैंक का IFSC कोड, बैंक अकाउंट नंबर और गांव का नाम लिखने में गलती होने पर भी पैसा आपके खाते में क्रेडिट नहीं होगा।
  • गलतियों को सुधारने के लिए सबसे पहले आप वेबसाइट pmkisan.gov.in पर जाएं। यहां ‘किसान कॉर्नर’ के विकल्प का चयन करें।
  • आपको ‘आधार एडिट’ का विकल्प दिखाई देगा, यहां आप अपने आधार नंबर में सुधार कर सकते हैं।
  • अगर आपने अपने बैंक खाता नंबर में कोई गलती की है तो उसे सुधारने के लिए आपको कृषि विभाग के कार्यालय या लेखपाल से संपर्क करना होगा।

 

Leave a Comment

Your email address will not be published.