NEET UG 2022: नीट यूजी के उम्मीदवार 40 दिन और क्यों मांग रहे हैं, एनटीए-शिक्षा मंत्री को लिखा पत्र

NEET UG 2022 : राष्ट्रीय पात्रता सह प्रवेश परीक्षा 2022 (NEET UG 2022) परीक्षा 17 जुलाई 2022 को होनी है। परीक्षा की तारीख से ठीक पहले NEET UG के उम्मीदवारों ने केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री और राष्ट्रीय परीक्षण एजेंसी को एक पत्र लिखा है, जो परीक्षा आयोजित करता है, 40 दिन और समय मांगता है। इसके पीछे परीक्षार्थियों ने अपना तर्क दिया है। आइए जानते हैं कि परीक्षार्थियों ने पत्र में क्या समस्या बताई है और सरकार से क्या मांग की है। इसके अलावा प्रत्याशी सोशल मीडिया पर अपनी मांगें भी रख रहे हैं।

राष्ट्रीय पात्रता सह प्रवेश परीक्षा 2022/नीट यूजी 2022 में शामिल होने जा रहे कई उम्मीदवारों को वर्तमान परिस्थितियों से अवगत कराने के लिए एक पत्र लिखा गया है। पत्र में कहा गया है कि पिछले वर्ष 2021 में राष्ट्रीय पात्रता सह प्रवेश परीक्षा (NEET UG 2022) का आयोजन 12 सितंबर 2021 को किया गया था। इसके परिणाम 1 नवंबर, 2021 को घोषित किए गए थे। इसमें ओबीसी लंबित होने के कारण और सुप्रीम कोर्ट में ईडब्ल्यूएस आरक्षण का मामला, परीक्षा की काउंसलिंग 6 महीने की असामान्य अवधि तक चली, जो आमतौर पर 2 से 3 महीने की अवधि में पूरी हो जाती थी।

इसके अलावा हर साल राष्ट्रीय पात्रता सह प्रवेश परीक्षा/एनईईटी यूजी के उम्मीदवारों को परीक्षा की तारीख और अन्य जानकारी 5 महीने पहले ही बता दी जाती थी। लेकिन इस साल परीक्षा से तीन महीने पहले ही उम्मीदवारों को सूचित कर दिया गया था। इस वर्ष राष्ट्रीय पात्रता सह प्रवेश परीक्षा 2022 / NEET UG 2022 की अधिसूचना 06 अप्रैल 2022 को जारी की गई थी, जो परीक्षा की तारीख से केवल 100 दिनों के अंतराल पर है। इसने अधिकांश परीक्षार्थियों को मानसिक अवसाद में डाल दिया है।

READ MORE

इस वर्ष की राष्ट्रीय पात्रता सह प्रवेश परीक्षा 2022 / NEET UG 2022 परीक्षा 17 जुलाई 2022 को निर्धारित की गई है और पिछले 2021 वर्ष की काउंसलिंग अप्रैल के अंतिम सप्ताह में पूरी हो चुकी है। कई राज्यों में राष्ट्रीय पात्रता सह प्रवेश परीक्षा 2022/नीट यूजी 2022 की अधिसूचना जारी होने के बाद भी राज्य स्तरीय काउंसलिंग चल रही थी। इसी क्रम में उत्तर प्रदेश राज्य में 26 अप्रैल 2022 को स्ट्रे वेकेंसी राउंड संपन्न हुआ। .

हर साल मिलता है तैयारी का टाइम 

हर वर्ष राष्ट्रीय पात्रता सह प्रवेश परीक्षा  / नीट यूजी  के छात्रों को काउंसिलिंग की समाप्ति से अगले सत्र की परीक्षा तिथि के बीच 6-8 माह की अवधि प्रदान की जाती है जिससे जिन छात्रों का चयन ना हो पाया हो उन्हें दोबारा तैयारी करने का पर्याप्त समय मिले. लेकिन इस वर्ष परीक्षार्थियों को केवल 3 माह का समय दिया गया है. तैयारी के समय मे एकाएक असामान्य कटौती हो जाने से काउंसिलिंग मे भाग लेने वाले परीक्षार्थियों मे भय, अवसाद एवं चिंता की परिस्थिति उत्पन्न हो चुकी है.

ये हैं मांग 

राष्ट्रीय चिकित्सा आयोग /एन एम सी द्वारा जारी की गई आधिकारिक अधिसूचना के अनुसार सत्र 2021-2022 की शुरुआत 14 फरवरी 2022 से हुई है. इसी के साथ इस सत्र के पहले प्रोफेशनल की अवधि 13 माह से घटा कर 11 माह कर दी गई है. आधिकारिक अधिसूचना के अनुसार 2022 का नया सत्र 2023 से पहले शुरू नहीं किया जा सकता है . 17 जुलाई 2022 को राष्ट्रीय पात्रता सह प्रवेश परीक्षा  / नीट यूजी संपन्न होने के पश्चात भी छात्रों को 6 माह / आधे वर्ष की असमान्य अवधि तक परीक्षार्थ‍ियों को नए सत्र के शुरू होने का इंतजार करना पड़ेगा. सामान्य 40 दिवसों के लिए परीक्षा तिथि का विस्तार किसी प्रकार से प्रवेश प्रकिया के लिए क्षतिकारक नहीं होगा एवं नया सत्र भी समय पर शुरू किया जा सकेगा.

ये है समस्या 

परीक्षार्थ‍ियों का तर्क है कि कई ऐसे छात्र है जो गणित / मैथ्स और जीव विज्ञान /बायोलॉजी का साथ अध्ययन करते है. ऐसे छात्र जे. ई. ई. और नीट यूजी समेत कई अन्य परीक्षाएं भी देते है. इन दो महत्तवपूर्ण परीक्षाओं की तिथि अत्याधिक पास होने से छात्र चिंतित हैं. जेईई की परीक्षा नीट यूजी के ठीक तीन दिवसों के अंतराल पर है जिससे मैथ्स जैसे कठिन विषय की प्रतियोगिता परीक्षा के स्तर पर तैयारी कर पाना बहुत कठिन है. वहीं सीयूसीईटी/सेंट्रल यूनिवर्सिटीज एंट्रेंस टेस्ट 2022 की परीक्षा भी जुलाई के दूसरे सप्ताह में होनी तय की गई है . इंजीनियरिंग एग्रीकल्चर एंड मेडिकल कॉमन एंट्रेंस टेस्ट /ईएएमसीईटी 2022 जो आंध्र प्रदेश और तेलंगाना के राज्यों में आयोजित की जाती है वह 14, 15, 18, 19 एवं 20 जुलाई 2022 को निर्धारित की गई है. सारी महत्पूर्ण परीक्षाओं का नीट यूजी 2022 के इतने पास होना अलग अलग राज्यों के परीक्षार्थियों को चिंतित कर रहा है.

कर रहे 40 दिनों की मांग

परीक्षार्थ‍ियों ने एनटीए को पत्र में लिखा है कि आप परीक्षार्थियों के हित को ध्यान में केंद्रीय शिक्षा मंत्री को छात्रो की परेशानियों से अवगत कराएं और न्यूनतम 40 दिनों के लिये नीट यूजी 2022 को स्थगित कर अगस्त अंत या सितंबर शुरू मे कराने का विचार करें जिससे सभी परीक्षार्थियों को तैयारी का पर्याप्त समय मिले.

READ MORE

Leave a Comment

Your email address will not be published.